Year: 2009

कहानी

कहानी……! जीवन एक नयी कहानी सी लगती  है, जैसे रोज़ खुदसे अनजानी सी लगती है,